You are here: Homeराष्ट्रीय समाचार राजनीति

Politics (45)

नई दिल्ली/राँची,8 अगस्त:भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन एनएसयूआई के द्वारा दिल्ली में मोदी सरकार के विरुद्ध आक्रोश मार्च निकाला.एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने आक्रोश मार्च संसद घेराव का कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें कन्याकुमारी से लेकर जम्मू कश्मीर तक के छात्र-छात्राओं के अलावा देश के विभिन्न कोने-कोने से आए छात्र छात्राओं ने भाग लिया.देश में बढ़ती बेरोजगारी और झूठे जुमलों की सरकार के खिलाफ जमकर आक्रोश प्रदर्शन किया गया.इस दौरान एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं को पुलिस के द्वारा किए गए बलप्रयोग से घायल होना पड़ा.एनएसयूआई के झारखंड प्रदेश उपाध्यक्ष इंद्रजीत सिंह ने आरोप लगाया कि भयभीत मोदी सरकार की पुलिस ने भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के सैकड़ों कार्यकर्ता को पुलिस हिरासत में ले लिया.कई दर्जन कार्यकर्ताओं के हाथ पैर और सर भी टूट गए.लोकतंत्र में लोकतांत्रिक रूप से आवाज उठाना और अपनी बातों को कहना अच्छी बात है और उसका समर्थन होना चाहिए परंतु वर्तमान सरकार अपने खिलाफ उठने वाले हर आक्रोश और हर आवाज को दबाना चाहती है.

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में सीलिंग के मसले पर सुप्रीम कोर्ट में बड़ी सुनवाई होने जा रही है। रविवार को दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी अमर कॉलोनी पहुंचे और व्यापारियों को सीलिंग की समस्या से जल्द राहत दिलाने का आश्वासन दिया। मनोज तिवारी ने व्यपारियों से कहा कि कानून बदलने के बारे में हमें सोचना चाहिए। अमर कॉलोनी में फिलहाल दुकानों को अस्थायी तौर पर डी-सील किया जाए। इस दौरान भाजपा नेता मनोज तिवारी व्यापारियों से आठ से 10 दिन तक इंतजार करने की अपील भी करते नजर आए। सीलिंग के मामले में राजनीति न करने की बात करते हुए उन्होंने व्यापारियों के साथ संवाद किया। मनोज तिवारी ने कहा, ''इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होने जा रही है। अमर कॉलोनी के तमाम कागज मेरे पास है, जो बहुत कुछ कहते हैं। अमर कॉलोनी का केस अलग है, लेकिन कागजों के मुताबिक अमर कॉलोनी को राहत मिलेगी और उन्हीं कागज को लेकर हम सुप्रीम कोर्ट के सामने खड़े होंगे।

 

सीलिंग के मसले पर सुनवाई का जिक्र करते हुए मनोज तिवारी ने उम्मीद जताई कि सुप्रीम कोर्ट और अधिकारी सिर्फ लीगल ही नहीं, बल्कि मानवीयता के आधार पर सामाधन निकालेंगे।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

 

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में सीलिंग के मसले पर सुप्रीम कोर्ट में बड़ी सुनवाई होने जा रही है। रविवार को दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी अमर कॉलोनी पहुंचे और व्यापारियों को सीलिंग की समस्या से जल्द राहत दिलाने का आश्वासन दिया। मनोज तिवारी ने व्यपारियों से कहा कि कानून बदलने के बारे में हमें सोचना चाहिए। अमर कॉलोनी में फिलहाल दुकानों को अस्थायी तौर पर डी-सील किया जाए। इस दौरान भाजपा नेता मनोज तिवारी व्यापारियों से आठ से 10 दिन तक इंतजार करने की अपील भी करते नजर आए। सीलिंग के मामले में राजनीति न करने की बात करते हुए उन्होंने व्यापारियों के साथ संवाद किया। मनोज तिवारी ने कहा, ''इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होने जा रही है। अमर कॉलोनी के तमाम कागज मेरे पास है, जो बहुत कुछ कहते हैं। अमर कॉलोनी का केस अलग है, लेकिन कागजों के मुताबिक अमर कॉलोनी को राहत मिलेगी और उन्हीं कागज को लेकर हम सुप्रीम कोर्ट के सामने खड़े होंगे।

 

सीलिंग के मसले पर सुनवाई का जिक्र करते हुए मनोज तिवारी ने उम्मीद जताई कि सुप्रीम कोर्ट और अधिकारी सिर्फ लीगल ही नहीं, बल्कि मानवीयता के आधार पर सामाधन निकालेंगे।

 

 

 

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

 

नई दिल्ली। भारत की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा पर होने वाले सातवें मॉस्को सम्मेलन में शरीक होने के लिए रूस की यात्रा पर जाएंगी। भारतीय दूतावास द्वारा यहां जारी एक बयान के अनुसार रक्षा मंत्री के रूप में यह उनकी पहली रूस यात्रा है। तीन से पांच अप्रैल के बीच तीन दिवसीय इस यात्रा के दौरान वह अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा पर सांतवें मॉस्को सम्मेलन में शामिल होंगी। वह रूस के रक्षा मंत्री जनरल सर्जेई शोइगू तथा अन्य वरिष्ठ नेताओं से भी मुलाकात करेंगी।

बयान में कहा गया, ‘‘ भारत और रूस के बीच उच्च स्तरीय मुलाकात की परंपरा को बरकरार रखते हुए यह यात्रा आयोजित की जा रही है। यह यात्रा दोनों देशों के बीच उस पारंपरिक गर्मजोशी तथा मित्रवत संबंधों को, खासतौर पर सैन्य तकनीक सहयोग के क्षेत्र को और मजबूत करने का अवसर प्रदान करेगी, जो पहले से ही दोनों के बीच मौजूद है।

 

 

 

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के विधायक आए दिन कानून के शिकंजे में फंसते नजर आ रहे हैं। ऐसा ही एक ताजा मामला दिल्ली के बदरपुर से सामने आया है। यहां आप विधायक एनडी शर्मा के खिलाफ एक महिला अधिकारी ने धमकी देने और बदतमीजी करने के आरोप में केस दर्ज कराया है। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। जानकारी के मुताबिक, महिला अधिकारी बाल एवं महिला विकास विभाग में कार्यरत हैं।

 

उसका आरोप है कि विधायक एनडी शर्मा ने फोन पर उसके साथ गाली-गलौच करते हुए अभद्र भाषा का प्रयोग किया. आरोप है कि वह 17 मार्च को लाजपत नगर स्थित ऑफिस में बैठी हुई थी, जिस दौरान विधायक शर्मा ने उनको फोन किया। बदरपुर थाने की पुलिस ने इस मामले की गंभीरता को देखते हुए बदरपुर विधायक एनडी शर्मा के खिलाफ आईपीसी की धारा 506 और 509 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

नई दिल्ली।। फेसबुक डेटा लीक मामले को लेकर बीजेपी ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। बीजेपी के हमले का अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जवाब दिया है।राहुल गांधी ने गुरुवार को ट्वीट कर केंद्र सरकार पर निशाना साधा।

राहुल ने लिखा -समस्याः 39 भारतीयों की मौत; सरकार बैकफुट पर, झूठ बोलते हुए पकड़ी गई

समाधानः कांग्रेस और डेटा चोरी को लेकर कहानी गढ़ो

परिणामः मीडिया नेटवर्क्स के बीच बाइट की होड़, 39 भारतीय रडार से गायब

समस्या हल हो गई.

बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प की मदद करने वाली एक फर्म ‘कैम्ब्रिज एनालिटिका’ पर लगभग 5 करोड़ फेसबुक यूजर्स की निजी जानकारी चुराने के आरोप लगे हैं।

इस जानकारी को कथि‍त तौर पर चुनाव के दौरान ट्रंप को जिताने में सहयोग और विरोधी की छवि खराब करने के लिए इस्तेमाल किया गया है।

इसके बाद बुधवार को केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कैंब्रिज एनालिटिका का कनेक्शन कांग्रेस से जोड़ते हुए कई आरोप लगा डाले। प्रसाद ने आरोप लगाया कि कैंब्रिज एनालिटिका के कांग्रेस पार्टी के साथ संबंध हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सोशल मीडिया प्रोफाइल में कैंब्रिज एनालिटिका की क्या भूमिका है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने 2019 के चुनाव अभियान के लिए कैंब्रिज एनालिटिका की सेवा ली है।मीडिया के एक वर्ग द्वारा इसे ब्रह्मास्त्र कहा जा रहा है।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

नई दिल्ली: व्लादिमीर पुतिन ने रुस के राष्ट्रपति चुनाव में एक बार फिर जीत हासिल कर ली है। उन्हें साल 2012 से भी ज्यादा वोट इस चुनाव में मिले हैं। ऐसे समय में जब रूस और पश्चिमी देशों के संबंध खराब दौर से गुजर रहे हैं रूस की जनता ने पुतिन को ही अगले 6 सालों के लिए राष्ट्रपति चुना है। अब वह 2024 तक इस पद पर रहेंगे।

 

- पुतिन 2024 में अपना कार्यकाल खत्म होने के समय 71 साल के होंगे और उस समय सोवियत शासक जोसेफ स्टालिन के बाद सबसे लंबे समय तक नेता रहने वाले शख्स भी होंगे। पुतिन ने इस चुनाव से पहले अपने देश के नागरिकों से वादा किया था कि वे पश्चिमी देशों के खिलाफ रक्षा क्षेत्र को मजबूत करेंगे और लोगों के जीवन स्तर को सुधारेंगे।

 

- रूस के चुनाव आयोग ने जानकारी दी है कि बीते 18 सालों से राजनीति में अपना दबदबा रखने वाले पुतिन को 75.9 प्रतिशत वोट मिले हैं। जीत के बाद पुतिन ने अपने प्रशंसकों की भीड़ को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें इस जीत का भरोसा था।

 

- अभी तक के नतीजों के मुताबिक पुतिन के सबसे करीबी प्रतिद्वंद्वी और कम्युनिस्ट पार्टी के उम्मीदवार पावेल ग्रुदिनिन को करीब 13 प्रतिशत वोट मिले, जबक नैशनलिस्ट व्लादिमीर झिरिनोवस्की को करीब 6 प्रतिशत वोट मिले हैं। 65 साल के पुतिन साल 2000 से रूस के राष्ट्रपति पद पर बने हुए हैं।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

नई दिल्ली॥ उत्तर प्रदेश की फूलपुर सीट पर हुए लोकसभा उपचुनाव का नतीजा घोषित कर दिया गया है। सपा प्रत्याशी नागेंद्र पटेल ने भाजपा उम्मीदवार कौशलेंद्र पटेल को 59,613 मतो से शिकस्त दी है। दूसरी तरफ गोरखपुर और बिहार की अररिया लोक सभा सीटों पर वोटों की गिनती जारी है। कई राउंड की गिनती हो गई है। यूपी के गोरखपुर फुलपुर से सपा उम्मीदवार आगे चल रहे हैं। बिहार की अररिया लोकसभा सीट से राजद उम्मीदवार सरफराज आलम आगे चल रहे हैं।

इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जीतने वाले उम्मीदवारों को बधाई दी है और साथ ही बीजेपी पर निशाना साधा है। राहुल ने ट्वीट कर कहा कि,' आज के उपचुनावों में जीतने वाले उम्मीदवारों को बधाई। नतीजों से स्पष्ट है कि मतदाताओं में भाजपा के प्रति बहुत क्रोध है और वो उस गैर भाजपाई उम्मीदवार के लिए वोट करेंगे जिसके जीतने की संभावना सबसे ज़्यादा हो। कांग्रेस यूपी में नवनिर्माण के लिए तत्पर है, ये रातों रात नहीं होगा'

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

नई दिल्ली॥ संसद के अगले सत्र में आम लोगों को बड़ा तोहफा मिल सकता है। सरकार आम लोगों को 'बिजली का अधिकार' देने पर विचार कर रही है। अगर सबकुछ ठीक रहा तो संसद के मॉनसून सत्र में इस सिलसिले में बिल भी पेश किया जा सकता है। इसके तहत अप्रैल 2019 से सामान्य स्थितियों में दिन में 24 घंटे बिजली सप्लाइ नहीं होने पर पावर डिस्ट्रिब्यूटर्स को जवाबदेह ठहराया जाएगा।

इसमें सामान्य स्थिति में कंज्यूमर को पावर सप्लाइ न देने पर डिस्ट्रिब्यूटर्स को दंड देने का प्रावधान होगा। सामान्य स्थिति का मतलब यह है कि ब्रेकडाउन न हो या कोई तकनीकी खामी न हो। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक बिजली उत्पादन के लक्ष्य तो हासिल किया जा चुका है लेकिन सभी गांवों में पावर ट्रांसमिशन की सुविधा इस साल अप्रैल तक ही दी जा सकेगी।

सरकार के उम्मीद है कि देश के तमाम ग्रामीण इलाकों में 15 अप्रैल तक बिजली पहुंच जाएगी। मई 2014 में चार करोड़ परिवार बिजली की सुविधा से वंचित थे। इनमें से अब तक सौभाग्य योजना के तहत 2933000 परिवारों को कवर किया जा चुका है। यह योजना 11 अक्टूबर 2017 को शुरू की गई थी। नएनियमों के तहत किसी परिवार को बिजली सुविधा से लैस तभी माना जाता है, जब उसका पहला बिजली बिल लेजर में दर्ज हो जाए।

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

नई दिल्ली॥ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अरुणाचल प्रदेश यात्रा पर चीन के ऐतराज जताया है। इसके बाद भारत ने सख्त प्रतिक्रिया दी है। भारत ने कहा कि हमें अरुणाचल प्रदेश जाने करने का अधिकार है। भारत ने कहा कि हमारे नेताओं और लोगों को इस पूर्वोत्तर राज्य की यात्रा करने का अधिकार है। इसके साथ ही, भारत ने अपनी प्रतिक्रिया में इस पर भी जोर दिया कि अरुणाचल प्रदेशा भारत का एक अभिन्न हिस्सा है।

गौरतलब है कि पीएम मोदी ने गुरुवार को अरुणाचल प्रदेश की यात्रा की थी, जिसके बाद चीन ने भारत से ऐसा कोई कार्य करने से बचने को कहा था जो सीमा से जुड़े मुद्दे को पेचीदा बना सकता हो। चीन इस राज्य के दक्षिणी तिब्बत का हिस्सा होने का दावा करता है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने चीनी ऐतराज के बारे में पूछे जाने पर कहा, 'अरुणाचल प्रदेश भारत का अभिन्न हिस्सा है। हमारे नेताओं और लोगों को अरुणाचल की यात्रा करने का अधिकार है।'

बता दें कि अरुणाचल प्रदेश की पीएम मोदी की यात्रा पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जेंग शुआंग ने कहा था कि चीन सरकार ने तथाकथित अरुणाचल प्रदेश को कभी मान्यता नहीं दी और वह विवादित इलाके में भारतीय नेताओं की यात्रा का दृढ़ता से विरोध करता है। शुआंग के हवाले से सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने चीन की आपत्ति की जानकारी दी। 

Submit to DeliciousSubmit to DiggSubmit to FacebookSubmit to Google PlusSubmit to StumbleuponSubmit to TechnoratiSubmit to TwitterSubmit to LinkedIn

फोटो गैलरी

Rashtra Samvad FB

Contact Us

      • Address: 66, Golmuri Bazar, Jamshedpur-831003, Jharkhand
      • Tel: 0657-2341060 Mbl: 09431179542, 09334823893
      • Email:  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.
      • Website: http://rashtrasamvadgroup.com/

About Us

Rashtrasamvad is one of the renowned Hindi Magazine in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. ‘Rashtrasamvad’ is founded by Mr. Devanand Singh.